विदेश

इमरान अपने देश की चुनौतियों पर ध्यान दें: भारत

देश में अल्पसंख्यकों के साथ व्यवहार पर पाक प्रधानमंत्री इमरान खान की हालिया टिप्पणी को भारत ने शनिवार को पूरे देशवासियों को लिए अपमानजनक बताया और पड़ोसी मुल्क को इधर-उधर ध्यान भटकाने की बजाए अपनी घरेलु चुनौतियों पर ध्यान केंद्रित करने के लिए कहा। पाकिस्तानी मीडिया के अनुसार खान ने पंजाब प्रांत के एक कार्यक्रम में कहा है कि उनकी सरकार अल्पसंख्यकों के साथ “द्वितीय श्रेणी के नागरिकों” की तरह व्यवहार नहीं करने देगी जैसा कि भारत में किया जाता है। खान की इस कथित टिप्पणी के बारे में पूछे जाने पर विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि उनकी टिप्पणी “भारत के सभी नागरिकों के लिए अपमानजनक” है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने फिर से भारत की धर्मनिरपेक्षता और लोकाचार के बारे में अपनी समझ की कमी का प्रदर्शन किया है। कुमार ने कहा, “पाकिस्तान इधर उधर ध्यान भटकाने की बजाए अपनी घरेलू चुनौतियों पर ध्यान केंद्रित करे और अपने नागरिकों की स्थितियों में सुधार लाने की कोशिश करे ।