tranding news देश

ट्रेन की चपेट में स्कूल वैन के आने से 12 बच्चों की मौत

कुशीनगर जिले के दुदुई रेलवे स्टेशन के नजदीक मानव रहित क्रासिंग पर आज सुब​ह एक स्कूल वैन के पैसेंजर ट्रेन की चपेट में आने से कम से कम 12 बच्चों की मौत हो गयी, जबकि आठ अन्य घायल हो गये। उत्तर पूर्व रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी संजय यादव ने भाषा से फोन पर ​बताया​ कि हादसा कुशीनगर जिले के कप्तानगंज थावे के पास दुदुई रेलवे स्टेशन के पास एक मानव रहित रेलवे क्रासिंग पर आज सुबह सात बज कर दस मिनट पर हुआ। बच्चों को स्कूल लेकर जा रही एक वैन सिवान गोरखपुर पैसेंजर ट्रेन (55075) की चपेट में आ गयी। दुर्घटना में कम से कम 12 बच्चों की मौत हुई है। उन्होंने बताया कि क्रासिंग पर एक मानव रहित क्रासिंग मित्र तैनात था। उसने वैन ड्राइवर को रोकने की कोशिश की लेकिन ड्राइवर ने उसे अनसुना कर दिया। चालक ने वैन के निकालने की कोशिश की लेकिन शायद वैन बीच पटरी पर अचानक पहुंच कर बंद हो गयी और यह हादसा हो गया। इस बीच लखनऊ में प्रमुख सचिव सूचना अवनीश अवस्थी ने बताया कि दुर्घटना पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गहरा दुख व्यक्त किया है। उन्होंने हादसे में मारे गये बच्चों के परिजनों को दो-दो लाख रूपये की सहायता देने की घोषणा की है। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री योगी स्वंय घटनास्थल रवाना हो रहे हैं। उन्होंने मामले की जांच के आदेश दे दिये हैं। इस बीच यादव ने बताया कि रेलवे के आला अधिकारी घटना स्थल पर पहुंच रहे है। राहत और बचाव कार्य जारी है।

PM मोदी ने जताया शोक, कहा- होगी कार्रवाई
चेन्नई। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कुशीनगर में हादसे में स्कूली बच्चों की मौत पर गहरा दुख व्यक्त किया और कहा कि उत्तरप्रदेश सरकार और रेलवे इस मामले में कार्रवाई करेगी। कर्नाटक में भाजपा कार्याकर्ताओं, उम्मीदवरों एवं जन प्रतिनिधियों से नरेन्द्र मोदी ऐप पर चर्चा के दौरान प्रधानमंत्री ने कुशीनगर हादसे का जिक्र किया। मोदी ने कहा कि उन्हें इस दुखद घटना की जानकारी मिली जिसमें कई बच्चों की मौत हो गई है। उन्होंने कहा कि मुझे काफी पीड़ा हुई है। उत्तरप्रदेश सरकार और रेलवे इस मामले में कार्रवाई करेगी। उत्तर प्रदेश के कुशीनगर जिले के दुदुई रेलवे स्टेशन के नजदीक मानव रहित क्रासिंग पर आज सुब​ह एक मानव रहित क्रासिंग पर एक बच्चों से भरी स्कूल वैन के एक पैसेंजर ट्रेन से टकराने टकरा जाने के कारण कम से कम 12 बच्चों और वैन चालक की मौत हो गयी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और रेल मंत्री पीयूष गोयल ने अपने-अपने स्तर से पीड़ित परिवारों को दो-दो लाख रुपये (कुल चार लाख रुपये) की सहायता राशि देने की घोषणा की है।

प्रथम दृष्टया वैन चालक की गलती लगती है: योगी
कुशीनगर। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कुशीनगर जिले में दुदही रेलवे स्टेशन के निकट मानव रहित क्रासिंग पर हुए हादसे पर गहरा दु:ख प्रकट करते हुए आज कहा कि लापरवाही करने वालों के खिलाफ कठोरतम कार्रवाई होगी। उन्होंने कहा कि इस घटना में प्रथम दृष्टया गलती वैन चालक की लगती है क्योंकि वह ईयर फोन लगाकर वाहन चला रहा था।दुदही रेलवे स्टेशन के निकट क्रासिंग पर स्कूली बच्चों से भरी वैन पैसेंजर ट्रेन से टकरा गयी। हादसे में 13 बच्चों की मौत हो गयी है। योगी ने हादसे में मारे गये बच्चों के परिजनों और घायलों से मुलाकात की। उन्होंने मौके पर जाकर घटना की पूरी जानकारी हासिल की। योगी ने संवाददाताओं से कहा, ‘आज प्रात: पता लगा कि दुदही रेलवे स्टेशन के पास मानवरहित क्रासिंग पर दु:खद घटना हुई है। वैन ट्रेन से टकरा गयी, जिससे 13 बच्चों की दु:खद मौत हुई है। लापरवाही के लिए जो जिम्मेदार होगा, उसके खिलाफ सरकार कठोरतम कार्रवाई करेगी।’ उन्होंने कहा, ‘मैं यहां परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त करने आया हूं। प्रात: ही मैंने इस संबंध में रेलमंत्री से बातचीत की। प्रथम दृष्टया इस मामले में वैन ड्राइवर की गलती सामने आ रही है। ड्राइवर ईयर फोन लगाकर वैन चला रहा था। उसकी आयु को लेकर भी कुछ बातें सामने आ रही हैं। गोरखपुर कमिश्नर (आयुक्त) को जांच के आदेश दिये गये हैं।’ मुख्यमंत्री ने कहा कि पहले से कठोर निर्देश थे कि सुरक्षा नियमों का पालन कड़ाई से कराया जाए, खासकर जब स्कूली वाहन से बच्चे जाते हैं तो मानकों का पूरा ध्यान रखा जाए। उन्होंने कहा, ‘किन कारणों से ये चीजें (दिशा-निर्देश) फॉलो नहीं हो पायी हैं। मामले के जांच के आदेश दिये गये हैं।’ योगी ने कहा कि आगे से ऐसी दु:खद घटना ना हो, इसकी पुख्ता व्यवस्था की जाएगी।